इश्क़ की फुहारें (हाइकु )











इश्क़ बरसा
भीग रहे हैं सब
बदली फ़िज़ां
---------
अमृत रस
शबनमी सुकून
इश्क़ का नूर
---------
इश्क़ तिलस्म
सूझे ना कोई तोड़
सब उलझे
---------
चाँद-चकोर
इश्क़ की हसरत
वस्ल की प्यास
----------
इश्क़ मुअम्मा
सुलझ नहीं पाए
दिल समझे
----------
सुधा-सलिल
इश्क़ में भीगी मही
वसंत आया
----------
इश्क़ की सजा
पाँव लहुलूहान
मौत की ख़ुशी
-----------
नन्हा दीपक
इश्क़ में जला करे
खुशियाँ भरे
 ------------

© 2008-09 सर्वाधिकार सुरक्षित!

Comments

Popular posts from this blog

मनुष्य एक सामाजिक नहीं सामूहिक प्राणी है!

महिला दिवस और एक सशक्त महिला

‘आई ऍम फैन युसु’